Uncategorized

कार्ल हेंज: मेरा फेवरिट जर्मन !

मित्रों, ७० के दशक में कोलकाता में रहने के दौरान हम जिस टीम को सबसे खतरनाक मानते थे, वह जर्मनी थी. हमलोग उन दिनों किसी बेहद खतरनाक आदमी की तुलना किसी से करते थे: वह जर्मनी होती थी. हमलोग की नजरो में खतरनाक का पर्याय जर्मन ही होता था. आज दुनिया की सबसे खतरनाक टीम के चरित्र कि पहचान रखने वाली वही जर्मनी की टीम आज मेक्सिको से हार गयी है. उसकी हार से प्रकृत फुटबाल प्रेमियों को जरुर आघात लगा होगा, किन्तु जर्मनी की सुपरमेसी से बोर लोग जरुर रहत की सांस लिए होंगे: मैंने भी लिया. लेकिन ग्रेट जर्मनी की हार के बाद जिसकी छवि मेरे जेहन में उभरी, वह थे कार्ल हेंज रुमेनिंग ! वैसे तो जर्मनी ने फ्रेंज बेकेंबौर, गर्ड मुलर , मिरोस्लाव क्लोज, लोथार मथौस ,फोएलर जैसे ढेरों स्टार पैदा किये,पर मेरे फेवरिट रहे कार्ल हेंज. इसके पीछे उनकी असाधारण अटैकिंग खेल के साथ उनका मेरे फेवरिट हालीवुड एक्शन हीरो, क्लिंट ईस्ट वुड से साम्यता बड़ा कारण रहा. उन्हें मैदान में देखकर हर समय मुझे स्लिम-ट्रिम क्लिंट ईस्टवुड का भ्रम होता.इसलिए आज जब जर्मनी हांरी मुझे हेंज का चेहरा सबसे पहले याद आया.

  • एच एल दुसाध, राष्ट्रीय अध्यक्ष, बहुजन डाइवर्सिटी मिशन, दिल्ली                   

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *